Sep 3, 2018

बट्टा (Discount) क्या होता है? बट्टे के प्रकार और लाभ With Example.

हिंदी में Accounting के इस लेख में आज हम बट्टे(Discount) के बारे में बात करने वालें हैं की बट्टा क्या होता है? बट्टा कितने प्रकार का होता है? व्यापारिक और नकद बट्टे के मध्य अंतर क्या है? इसके अलावा हम आपको इनके Example बताएँगे जिनमे आपको बताया जायेगा की Discount की Journal Entry कैसे होती है।

batta ya discount kya hai trade discount aur cash discount me kya difference hai discount  kyo diya jata hai business me discount offer dene ke kya benifits hain batta kine prkar ka hota hai.


बट्टे को व्यापारी किसी खास उद्देश्य के लिए देते है। Business को बढ़ाने के लिए बड़ी-बड़ी Companies भी Discount देती हैं जैसा की आपने देखा होगा की बहुत से Product or Item पर Comapny Offers देती हैं।  डिस्काउंट देने से Customer और Businessman दोनों का फायदा होता है। व्यापारी का माल जल्दी बिक जाता है और ग्राहक बढ़ते हैं। ग्राहकों को बढ़िया छूट मिलने पर वह जल्दी payment कर देते हैं और माल भी खरीदते हैं। इसी प्रकार बहुत सी Banks भी Loan पर भी Discount देती हैं जिससे उनका ऋण शीघ्र प्राप्त हो जाता है। E-commerce website जो online product sale करती हैं वह भी Discount offer करती हैं। जिससे लाभ यह होता है की उनके products बहुत भारी मात्रा में विक्रय हो जाते हैं।

बट्टा (Discount) क्या होता है और यह कितने प्रकार का होता है?

बट्टा दो प्रकार का होता है।
1. व्यापारिक बट्टा (Trade Discount)
2. नकद बट्टा (Cash Discount)

व्यापारिक बट्टा (Trade Discount)
Seller के द्वारा अपने Customers को माल की मूल्य सूची (Price List) पर एक निश्चित प्रतिशत (Percent) की दर से Discount दिया जाता है जिसे व्यापारिक बट्टा कहते हैं।
इस बट्टे की अलग से कोई जर्नल प्रविष्टि नहीं की जाती है। Transaction की एंट्री करते समय ही उस व्यवहार की राशि में से बट्टे को calculation करके घटा दिया जाता है बाकी राशि को बिल पर दिखाया जाता है। इस प्रकार के बट्टे की राशि Invoice या Cash Memo में ही माल के वास्तविक मूल्यों में से कम कर दी जाती है।

Trade Discount क्यों दिया जाता है इसका क्या लाभ है?

ट्रेड Discount देने का मुख्य उद्देश्य Sale को बढ़ाना होता है। जब माल कि बिक्री बहुत कम हो जाती है और माल स्टॉक में बहुत ज्यादा मात्रा में होता है तथा माल के खराब होने की संभावना बढ़ जाती है तो Discount देना बहुत जरूरी हो जाता है।
उस समय व्यापारी अपने माल को जल्दी बेचने के लिए कम मुनाफे या खरीद रेट पर ही बेचने का ऑफर दे देता है। मैं यहां पर आपको Trade Discount की entry के कुछ Example बताने जा रहा हूं जिनमें आप देख सकते हैं कि बट्टे को direct कम कर दिया गया है।

Example. 1. नरेश को ₹20000 का माल 10% व्यापारिक बट्टे पर बेचा।

Naresh a/c Dr                                                  18000
       To Sales a/c                                                        18000

इस Entry में माल की राशि 20000 रुपए है और इस पर डिस्काउंट 10 प्रतिशत है। अब 20000 का 10% निकालने पर 2000 आता है। 2000 को 20000 में से कम करके एंट्री कि गई है।
ऐसे निकाले प्रतिशत = 20000×10/100 = 2000/-

Example. 2. Harish को मूल्य सूची के आधार पर ₹10000 का माल 10% व्यापारिक बट्टे पर विक्रय किया।

Harish a/c Dr                                                 9000
   To Sales a/c                                                        9000

Example 3. Rajesh से 40000 रुपए का माल 20% Trade Discount ( व्यापारिक बट्टे) पर खरीदा।

Purchase a/c Dr                                           32000
   To Rajesh a/c                                                      32000
Example 4. Gupta Traders से 6000 रुपए का माल ख़रीदा और उस पर 3% discount received हुआ।

Purchase a/c Dr                                           5820
   To Gupta Traders                                             5820

नकद बट्टा (Cash Discount)

जब व्यापारी को अपने ग्राहकों से अपने माल का बकाया या भुगतान प्राप्त करना होता है तो उसके लिए व्यापारी Cash Discount का सहारा लेता है। दूसरे शब्दों में जल्द भुगतान प्राप्त करने के उद्देश्य से जो छूट व्यापारी द्वारा अपने देनदारों को दी जाती है उसे नकद बट्टा कहते हैं।

इस बट्टे की Entry की जाती है तथा इसे नाम मात्र का खाता कहते हैं। इस की प्रविष्टि Nominal Account के Rules के आधार पर की जाती है। जब Cash Discount प्राप्त किया जाता है तो उसे income के रूप में Credit किया जाता है। इसके उलट जब Debtors को यह Discount दिया जाता है उसे Loss के रूप में Debit किया जाता है। इसके भी कुछ उदाहरण हैं जिनको में यहां समझा रहा हूं।

यहां पर हम ऊपर first example बताया था उसको दोबारा लेंगे।
Example 1. यदि नरेश से 20000 के स्थान पर पूर्ण भुगतान में 18000 रुपए प्राप्त हुए। यानी Payment जल्दी मिलने के उद्देश्य से 2000 का Discount दे दिया।

Cash A/c Dr                                                           18000 
Discount allowed A/c Dr                                         2000
    To Ram A/c                                                                 20000

Example 2. Rakesh से पूर्ण भुगतान में 2000 के स्थान पर केवल 1700 रुपए प्राप्त हुए।
Cash a/c Dr                                                            1700
Discount allowed a/c Dr                                          300
To Rakesh a/c Dr                                                           2000

Example 3. राजीव को पूर्ण भुगतान में 5000 के स्थान पर 4500 रूपये चुकाए।
नोट :- इस एंट्री में हमने पेमेंट किया है तथा बट्टा प्राप्त (Discount Received) किया है।
Rajeev a/c Dr                                                             5000
    To Discount Received                                                    500
    To Cash                                                                        4500
नकद भुगतान किया है इसलिए To Cash आया है।

Example 4. Mangal से 20000 रूपये का माल ख़रीदा।

Purchase a/c Dr                                                    20000
    To Mangal a/c                                                            20000
Example 5. Mangal को पूर्ण भुगतान में 18000 रूपये चुकाए।

Mangal a/c Dr                                                   20000
    To Discount received                                              2000
    To Cash a/c                                                            18000
अब कुछ Entries हैं जिनको आपके अभ्यास के लिए मैं यहाँ पर लिख रहा हूँ अगर आप इनपर practice करोगे तो जल्दी डिस्काउंट एंट्री करना सीख जाओगे। इनके Answers आपको नीचे मिल जायेंगे।

(A). Narendra को 10000 रूपये का माल बेचा।
(B). Narendra से पूर्ण भुगतान में 9000 रूपये प्राप्त हुए।
(C). Nitish से 15000 रूपये का माल ख़रीदा।
(D). Nitish को पूर्ण भुगतान में 14000 रूपये चुकाए।

ये सिर्फ 4 Entries हैं इनको आपको करना है अगर आपको इन्हें समझने में Problem होती है तो हमसे पूछ सकते हैं। यह केवल अभ्यास के लिए हैं इसलिए बिना उत्तरमाला को देखे आपको इन्हें करना हैं। करने के बाद आपको अपने उत्तरों का मिलान करना हैं।
यहाँ तक आपने Trade Discount और Cash Discount के बारे में सीखा। अब हम सीखेंगे की इन दोनों में क्या अंतर हैं यानि Difference of Trade Discount and Cash Discount.

व्यापारिक बट्टे और नकद बट्टे में क्या अंतर है?

व्यापारिक बट्टा:-
1. अर्थ- यह Discount माल के Sale करते वक्त price list पर fixed percentage की दर से दिया जाता है।
2. उद्देश्य- इसका उद्देश्य Sale को बढ़ाना होता है। व्यापारी माल को जल्दी बेचने के लिए इसका उपयोग करता है।
3. Journal Entry- इस बट्टे की लेखा पुस्तकों में कोई भी Journal Entry नहीं होती है। जैसा की आप ऊपर देख सकते हैं। हमने इस बट्टे की एंट्री नहीं की है।

नकद बट्टा:-
1. अर्थ- यह Discount payment करते समय या payment receive करते वक़्त दिया जाता है।
2. उद्देश्य- इसका उद्देश्य जल्दी payment receive करना होता है। भुगतान जल्दी प्राप्त करने के लिए Cash Discount का उपयोग किया जाता है।
3. Journal Entry- इस बट्टे की लेखा पुस्तकों में Journal Entry होती है। जैसा की आप ऊपर देख सकते हैं। हमने इस बट्टे की एंट्री की है। Cash Discount एंट्री करते समय लेखा पुस्तकों में लाभ - हानि के रूप में दर्ज किया जाता है।

ऊपर दी गयी Entries के Answers:

(A). Narendra a/c Dr                                           10000
            To Sales a/c                                                       10000

(B). Cash a/c Dr                                                    9000
       Discount allowed a/c Dr                                1000
            To Narendra                                                      10000
(C). Purchase a/c Dr                                            15000
            To Nitish a/c                                                      15000


(D). Nitish a/c Dr                                                15000
            To Cash a/c                                                       14000
            To Discount received a/c                                    1000

इस लेख में आपने सीखा है Trade Disount और Cash Discount के बारे में यानि बट्टा क्या होता है? बट्टे को कटौती, छूट और अपहार के नाम से भी जाना जाता है। हम उम्मीद करते हैं कि आपको यह लेख पसंद आया होगा। Accounts सीखने के लिए जुड़े रहिये हमारे साथ हम जल्द हाजिर होंगे एक और पोस्ट लेकर। नयी पोस्ट की जानकारी के लिए साईट को सब्सक्राइब कर लें।
Previous Post
Next Post

मैं इस वेबसाइट का फाउंडर हूँ। इस साईट के जरिये से लोगों की सहायता करना ही हमारा उद्देश्य है। बहुत से लोग हिंदी में पढना पसंद करते हैं तो यह साइट उनके लिए बहुत उपयोगी साबित हो सकती है। हमसे जुड़े रहने के लिए सोशल मीडिया पर फॉलो करें।

Related Posts

0 comments:

Your email address will not be published.