Business or Manual Accounting से Related Questions and Answers

Share:
Accounts, Entry, Transactions, Gross Profit, Net Profit, Journal, Event, Goods, Investments etc. के बारे में यह लेख प्रस्तुत है बिजनेस में जब एकाउंटिंग करते हैं तो बहुत सी चीजें निकलकर सामने आती हैं जैसे कि घटनाएं आयोजन प्रविष्टियां आदि। ऐसी ही बहुत सी चीज है जिनको हम यहां पर विस्तार से समझेंगे। इस आर्टिकल में हम आपको व्यापारिक लेखा करने के लिए काम आने वाली महत्वपूर्ण बातें बताएंगे जिनको हमने सवाल और जवाब के रूप में प्रस्तुत किया है। लेखांकन और व्यवसाय से संबंधित सवाल और जवाब से आप बहुत कुछ सीख सकते हैं।

business or accounting questions and answers like journal transactions entry events payments net profit gross profit accounts contingent liabilities receipt reserve provision etc.

Business और Manual Accounting से Related Questions and Answers

Q.1. जर्नल (Journal) क्या है?
Ans. व्यापार में होने वाले प्रत्येक मौद्रिक व्यवहार को प्रारंभिक रूप से जिस लेखा पुस्तक में तिथिवार व क्रमवार लिखा जाता है उसे जर्नल या प्रारंभिक लेखा पुस्तक कहते हैं।


Q.2. सौदा (Transaction) किसे कहते हैं ?
Ans. जब दो पक्ष कार व्यवसाई क्रियाकलापों के संपादन के दौरान मुद्रा एवं मुद्रा तुल्य किसी वस्तु के बदले वस्तु का आदान प्रदान करते हैं तो पक्षकारों की यह क्रिया सौदा, लेन-देन या व्यवहार (transaction) के नाम से जानी जाती है।


Q.3. विनियोग (Investment) किसे कहते हैं?
Ans. व्यवसाय में आवश्यकता से अधिक धन उपलब्ध होने पर उसे व्यवसाय से बाहर अंशों, ऋण पत्रों, सरकारी प्रतभूतियों या स्थाई निष्क्षेपों में लगाया जाता है जिसे विनियोग (investment) कहते हैं।


Q.4. खाता (Account) क्या है?
Ans. जिस प्रारूप में किसी व्यक्ति, वस्तु, आय व्यय से संबंधित लेन देनो को क्रमवार लेखांकित किया जाता है। उसे खाता कहते हैं खातों को खाताबही में रखा जाता है।


Q.5. संदिग्ध दायित्व (Contingent Liabilities) किसे कहते हैं?
Ans. ऐसी लायबिलिटी जिनका होना या ना होना किसी घटना के घटित होने पर निर्भर करता हो “यह व्यवसाय का दायित्व भी हो सकता है या नहीं” इसी अनिश्चितता के कारण इसे संदिग्ध दायित्व कहते हैं यानी किसी लायबिलिटी का डाउटफूल होना संदिग्ध दायित्व कहलाता है। For example: किसी के लिए गारंटी देना, न्यायालय में विचारहीन दावे आदि।


Q.6. घटना (Event) किसे कहते हैं?
Ans. ऐसे तथ्य जो व्यवसाय के आर्थिक संसाधनों को प्रभावित करते हैं उसे घटना कहते हैं। यानी व्यवसाय में प्राकृतिक कारणों से अचानक होने वाला नुकसान। For example: व्यवसाय में आग का लगना, चोरी होना, भूकंप आना या बाढ़ आना आदि।
Ans. एक बिजनेसमैन जिस वस्तु को बेचने के उद्देश्य से खरीदता है उसे माल कहा जाता है। यानी जिस वस्तु का बिजनेस किया जाता है उसको लाभ से बेचने के लिए क्रय करना माल कहलाता है।


Q.8. शक्ल लाभ (Gross Profit) किसे कहते हैं?
Ans. शुद्ध बिक्री से प्राप्त राशि का बेचे गए माल की लागत (जिसमें प्रशासनिक एवं बिक्री व्यय शामिल ना हो) पर आधिक्य को शक्ल लाभ कहते हैं।
शक्ल लाभ निकालने के लिए इस फार्मूले का प्रयोग किया जाता है।
शक्ल लाभ = शुद्ध विक्रय की राशि – विक्रय किए गए माल की लागत


Q.9. शुद्ध लाभ (Net Profit) किसे कहते हैं?
Ans. निर्धारित समयावधि में होने वाली आय का उसी अवधि के समस्त व्ययों पर आधिक्य को शुद्ध लाभ कहा जाता है। शुद्ध लाभ निकालने के लिए इस फार्मूले का प्रयोग किया जाता है।
शुद्ध लाभ = शक्ल लाभ + अप्रत्यक्ष आय – बिक्री, कार्यकाल, वितरण व्यय


Q.10. लेखांकन में प्रविष्टि (Entry) क्या होती है?
Ans. प्रारंभिक लेखा पुस्तकों में व्यवसाय में होने वाले प्रत्येक मौद्रिक व्यवहार को दर्ज करना प्रविष्टि (Entry) कहलाती है।


Q.11. व्यवसाय में प्राप्ति (Receipt) क्या होती है?
Ans. पूंजी के सर्वोत्तम उपयोग से जो अतिरिक्त धन प्राप्त होता है उसे आय कहते हैं तथा प्राप्ति (Receipt) आय का वह भाग है जो वास्तव में प्राप्त हुआ है।


Q.12. भुगतान (Payment) क्या है?
Ans. व्यवसाय गतिविधियों के परिचालन के दौरान कई मदों के संबंध में राशि चुकानी होती है। कुल देय राशि को व्यय तथा व्ययो में से वास्तविक चुकाई गई राशि को भुगतान कहते हैं।


Q.13. व्यवसाय में संशय (Reserve) के अन्तर्गत कौनसी राशि आती है इसका मतलब क्या है?
Ans. Indian Company Act 1956 के अनुसार संशय के अन्तर्गत वह राशि आती हैं जो संपत्ति के Depreciation Renewal या किसी ज्ञात दायित्व के लिए आयोजन ना हो।


Q.14. आयोजन (Provision) का मतलब क्या है इसमें राशियों का क्या प्रावधान है?
Ans. Indian Company Act 1956 के तहत आयोजन का संबंध उन राशियों से है जो स्थाई और चल संपत्ति के मूल्य में कमी आने के कारण या उसके नवीनीकरण (Renewal) के लिए Depreciation का आयोजन करने के लिए रखी गई हो।
या किसी ऐसे known दायित्व का आयोजन करने के लिए रखी गई हो जिसकी राशि पर्याप्त शुद्धता के साथ निर्धारित नहीं की जा सकती हो।


इस लेख में आपने Business or Account ( लेखांकन) से संबंधित सवाल और जवाब खाता, आयोजन, प्राप्ति, प्रविष्टि, भुगतान आदि के बारे में पढ़ा है अगर आपको यह Knowledge पसंद आयी हो तो शेयर करें। किसी भी चीज को समझने में प्रॉबलम हो तो कमेंट करके पूछ सकते हैं हम आपकी सहायता करने की पूरी कोशिश करेंगे। Good Luck!

No comments