Business में Stock क्या है और Accounting में इसकी गणना कैसे की जाती हैं ?

Share:
व्यवसाय में स्टॉक क्या है और स्टॉक के कितने प्रकार होते हैं और इनकी गणना कैसे की जाती है आज हम इन्हीं के बारे में जानेंगे। लाभ हानि का पता लगाने के लिए व्यापार में जो माल मौजूद है उसकी गणना करना और उसकी लागत का पता लगाना जरूरी होता है। इससे पहले हम व्यापार में लेनदार और देनदार क्या होते हैं के बारे में लिख चुके हैं अब हम ओपनिंग स्टॉक और क्लोजिंग स्टॉक के बारे में विस्तार से समझेंगे।

business me stock ki counting kaise kare stock kitne prkar ka hota hai opning stock aur closing stock kya hai


व्यवसाय में स्टॉक क्या है और इसके कितने प्रकार होते हैं ?

जब व्यवसाय शुरू किया जाता है तो उसमे व्यवसायी को लागत लगाकर माल खरीदना होता है क्योंकि उसमे कोई भी ओपनिंग स्टॉक नहीं होता है परन्तु पुराने व्यवसाय में पिछले साल का माल अगले साल में जोड़ लिया जाता है जिसे ओपनिंग स्टॉक के आधार पर काउंट किया जाता है।
स्टॉक (Stock, रहतिया) -
एक निश्चित समय पर व्यवसाय के पास उपलब्ध माल को स्टॉक या रहतिया के नाम से जाना जाता है। Stock की गणना दो रूपों में की जाती है।
  • प्रारंभिक स्टॉक (Opening Stock)
  • अन्तिम स्टॉक (Closing Stock)

1. प्रारंभिक स्टॉक (Opening Stock) -व्यापारी वर्ष के पहले दिन स्टॉक की उपलब्ध मात्रा एवं उसकी लागत को Opening Stock कहा जाता है। यदि व्यवसाय पुराना हो तो पिछले वर्ष का अन्तिम स्टॉक ( Closing Stock) स्वतः ही चालू वर्ष का Opening Stock मान लिया जाता है। जबकि नए व्यवसाय में प्रारंभिक स्टॉक नहीं होता है।
2. अन्तिम स्टॉक ( Closing Stock) -
व्यवसायिक वर्ष के अंत में व्यवसाय में उपलब्ध बिना बिका माल Closing Stock कहलाता है। इसका मूल्यांकन सदैव “लागत मूल्य या बाजार मूल्य दोनों में से जो भी कम हो” के सिद्धांत पर किया जाता है।
बहुत सी व्यापारिक संस्थाएं ऐसी होती हैं जिनमें वस्तुओं का निर्माण किया जाता है उनमें कच्चे माल का उपयोग किया जाता है। चलिए जानते हैं कि एक निर्माणी संस्था में सामग्री का स्टॉक कितने प्रकार से होता है।

वस्तुओं का निर्माण करने वाले व्यवसाय में स्टॉक के प्रकार 

  • कच्ची सामग्री का स्टॉक (Stock of Raw Materials)
  • अर्धनिर्मित माल का स्टॉक (Stock of Work in Progress)
  • निर्मित माल (Stock of Finish Goods)

1. कच्ची सामग्री का स्टॉक (Stock of Raw Materials) -
लेखा वर्ष के अंत में गोदाम में शेष बचा कच्चा माल जो उत्पादन हेतु उत्पादन विभाग को निर्गमित नहीं किया गया है उसको हम stock of raw material कहेंगे।


अर्धनिर्मित माल का स्टॉक (Stock of Work in Progress) -एक निर्माणी संस्था में माल का निर्माण विभिन्न प्रक्रियाओं से संपादित किया जाता है। निर्माण करने की प्रक्रिया की शुरुआत कच्चे माल से होती है और समाप्ति निर्मित माल से होती है। अब ऐसा निर्माण जो बीच में ही रोक दिया गया हो यानी शेष बचा हुआ माल जो ना तो कच्चा माल हो और ना ही निर्मित माल हो उसे हम अर्धनिर्मित माल के नाम से जानते हैं।


निर्मित माल (Stock of Finish Goods) -ऐसा माल जिसका निर्माण पूरा हो गया हो और उसको बेचने के लिए पूरी तरह से तैयार कर दिया गया हो लेकिन वर्ष के अंत तक उसको बेचा ना गया हो और वह गोदाम में मौजूद हो उसको हम निर्मित माल का स्टॉक (Stock of Finish Goods) कहेंगे।
इस पोस्ट में हमने सीखा है व्यापार में स्टॉक क्या है और स्टॉक के कितने प्रकार हैं। अगर आपको इसमें कोई भी चीज समझ में नहीं आती है तो कमेंट में पूछे। अगर आपको लगता है कि इसमें कोई कमी रह गई है और आप उसको पूरा करना चाहते हैं तो हमसे संपर्क करें और अपना सपोर्ट दें।

No comments