Nov 10, 2018

अभी भी जारी है ये दिवाली ऑफर । Honor Mobile Phone Discount Offer

हेल्लो दोस्तों हम बात करने वाले Honor के Mobile Phone के बारे में, जी हाँ दोस्तों Honor के smart phone पर offer चल रहा है। आज 10 November है लेकिन यह offer आपको 12 November तक दिया जा रहा है। अगर आप Honor Company के Android Mobile खरीदना चाहते हैं तो इस मौके को अपने हाथ से मत जाने दीजिये। जल्दी से आप भी अपने लिए एक बढ़िया कंपनी का मोबाइल खरीद लीजिये। Honor Company की तरफ से यह दीपावली का ऑफर दिया जा रहा है। कंपनी ने इस ऑफर के बारे में कहा है की यह अभी समाप्त नहीं होगा आगे भी चलेगा। ज्यादा जानकारी के लिए इस पोस्ट को पूरा पढ़िए।
honor mobile discount offer, honor mobile honor 10, honor 9i, honor 7s, honor 8x, honor 9 lite offer, honor exchange offer etc
Honor Mobile Discount Offer
Honor 9 Lite, Honor 9i, Honor 10 और Honor 7S के लिए यह ऑफर अभी ख़त्म नहीं हुआ है। Honor कंपनी ने दीपावली के अवसर पर दस लाख से ज्यादा फ़ोन बेच दिए हैं। इस कम्पनी के मोबाइल को लोग बहुत ज्यादा पसंद कर रहे हैं। Honor Company का Blue Colour वाला फ़ोन तो बहुत ही शानदार है। Honor के मोबाइल की लगातार मांग बढती जा रही है। इसलिए Company ने फैसला किया है की वह दीपावली के इस ऑफर को 12 November तक जारी रखेगी। दोस्तों दीपावली ख़त्म हो गयी है लेकिन Honor का offer ख़त्म नहीं हुआ है। कम्पनी इस ऑफर को जारी रखते हुए flipkart website पर 12 november तक मोबाइल फ़ोन sell करेगी।

Honor Android Mobile Phone Diwali Offer । Discount offer on Honor Smartphone

कम्पनी की तरफ से यह ऑफर दिया जा रहा है जिसमे, Honor 9 Lite के 3 GB RAM और 32 GB internal Storage variant को Company 9,999 रूपये में sell कर रही है। Honor 10 पर 8,000 रूपये का discount देने के बाद इसको 24,999 रूपये में बेच रही है। इसके अलावा Honor 9 Lite के साथ exchange offer भी दिया जा रहा है। Honor 9 Lite के 4 GB RAM और 64 GB internal memory के वैरिएंट पर Exchange करने पर आपको 3000 रूपये तक की छूट मिल सकती है। इससे आप इसे मात्र 11,999 रूपये में अपना कर सकते हैं।
Honor 9 3 GB RAM and 32 GB Storage वाले Mobile Phone को कम्पनी द्वारा जनवरी में लांच किया गया था तब इसकी कीमत 10,999 रूपये थी। कम्पनी ने इसके दुसरे वैरिएंट 4 GB RAM and 64 GB इंटरनल स्टोरेज को लांच किया है जिसकी कीमत मात्र 14,999 रूपये है। अब आप देर मत कीजिये अभी ऑफर चल रहा है अगर आपने अपना बजट तैयार कर रखा है तो अपने बजट के अनुसार वैरिएंट सेलेक्ट कीजिये और फ्लिप्कार्ट वेबसाइट पर जाकर Honor का बढ़िया और सस्ता मोबाइल खरीद लीजिये।

हॉनर 10 पर काफी बढ़िया डिस्काउंट दिया जा रहा है इस फ़ोन की असली कीमत की बात करें तो यह फ़ोन 32,999 रूपये का है लेकिन इस पर छूट देने के बाद इसे 24,999 रूपये में ही दिया जा रहा है। 14,999 रूपये के Honor 9i smartphone पर Discount देने के बाद इसे 12,999 रूपये में दिया जा रहा है। इसके अलावा Honor 7S पर One Thousand Rupees यानि 1000/- रूपये का discount मिल रहा है।
अगर आप इनके अलावा अगर Honor के और भी मोबाइल खरीदना चाहते हैं तो उन पर भी कम्पनी ऑफर दे रही है। ऑफर के बारे में जानकारी के लिए आप Honor की Official Website या Flipkart पर जाकर Product Select करके offer देख सकते हैं।
मोबाइल फ़ोन के बारे में तथा इस प्रकार के अन्य प्रोडक्ट के बारे में जनकारी अपने ईमेल पर पाने के लिए हमारी साईट के Newsletter को Subscribe करें। इस पोस्ट से सम्बंधित किसी सवाल के लिए निचे कमेंट कर सकते हैं।

Nov 8, 2018

चेहरे को निखारने और गोरा बनाने के लिए घरेलू उपाय । चेहरे को सुन्दर कैसे बनायें

स्त्री हो या पुरुष अपने सोंदर्य की फ़िक्र सबको होती है। हर एक व्यक्ति और महिला को अपनी सुन्दरता के लिए तनाव में रहना सही नहीं हैं। क्योंकि सुन्दरता ईश्वर की देंन होती है। हर एक आदमी और औरत को अलग-अलग प्रकार का रंग रूप दिया जाता है। हमारा मानना यह है की दुनिया में कोई भी ऐसी क्रीम नहीं बनी है जो एक इन्सान को उसकी मनचाही सुन्दरता दे सके। लेकिन हम बात कर रहे हैं निखार की, निखार और सुन्दरता में बहुत फर्क है। निखार का मतलब होता है सफाई लाना यानि किसी भी चीज़ को अच्छी तरह रिपेयर करके उसको एक अलग तरह से दिखाया जाये। सुन्दरता एक ऐसी चीज होती है जो प्राकृतिक होती हैं जो इंसान को अपने आप मिलती है। तो चलिए हम यहाँ पर आपको चहरे पर निखार कैसे लायें और कील मुहासों से बचने के उपाय बताएँगे।
Chehre ko gora karne ke gharelu upay, chehre par nikhar kaise laye, chehre ko sundar kaise banaye, gora banne ke gharelu tips, gora hone ka tariak, gharelu tarike goara hone ke, chehre par nikhar lane ke gharelu tarike
चेहरे पर निखार कैसे लायें

कोई भी चीज हो जब हम उसकी देखभाल अच्छे तरीके से करते हैं तो वह बढ़िया चलती है और उसकी लाइफ भी बढती है। इसी तरह हमारे चेहरे की देखभाल की जाये तो हम अपनी चमक-दमक को बरक़रार रख सकते हैं। अपने स्वास्थ्य से जुडी सभी समस्याओं को दूर करना इंसान के हाथ में नहीं हैं लेकिन अगर इंसान कोशिश करे तो हो सकता है उसकी समस्या ख़त्म हो जाये। इसलिए हम आपको अपने चहरे से जुडी समस्याओं को दूर करने के तरीके बताएँगे।

चेहरे पर निखार कैसे लायें और सांवला रंग साफ़ करने के तरीके 

  1. अगर आपके चेहरे की स्किन ओयिली है तो नीबू का रस और हल्दी आपके लिए बढ़िया है।
  2. चेहरे के रंग को साफ़ करने और निखारने के लिए शहद, गुलाब की पंखुड़ी और दूध का लेप बनाकर लगायें।
  3. सांवलापन दूर करने के लिए एलोवीरा जूस, एप्पल साइडर विनिगेर तथा हल्दी तीनो को मिलाकर मिश्रण बनाये और चेहरे पर लगायें।
  4. कच्चे पपीता का पेस्ट बनाकर चेहरे पर लगायें यह आपकी मृत त्वचा ताजगी प्रदान करेगा।
  5. अगर आपकी त्वचा सुखी है तो बेसन, दूध मलाई और हल्दी लें इन तीनो का लेप बनाकर चेहरे पर लगायें। तेलीय तवचा वाले इसे न लगाये।
  6. तुलसी के पत्तों को पीसकर लगाने से चेहरे पर ताजगी आती है और त्वचा चमकदार बनती है।
  7. हल्दी, बेसन, आंवला पाउडर और दही में एलोवेरा जूस और नीबू रस मिलाकर एक पेस्ट बना ले इसे आप face pack की तरह इस्तेमाल करें। इससे चेहरे के काले धब्बे साफ़ होंगे।
  8. skin moisturizer के लिए हल्दी और नारियल का लेप बनाकर लगायें। इससे स्किन में Glow भी आएगी। 
  9. अगर त्वचा ओयिली है तो मुल्तानी मिटटी का लेप लगाये सूखने के पांच मिनट बाद धो लें।
  10. चेहरे पर नीबू के छिलके को रगड़ें और पांच मिनट बाद इस पर बेसन का लेप लगायें और पंद्रह मिनट बाद धोएं। इससे चेहरे में ताजगी और निखार आता है। सप्ताह में एक बार इसे करना चाहिए। मैं अक्सर इसी तरीके को करता हूँ। इससे मुझे बहुत बेनेफिट्स मिलता है। इसकी एक और खासियत यह भी है की इससे चेहरे के दाने, कील मुहासे (Pimples) भी ख़त्म हो जाते हैं। बेसन में दो चुटकी हल्दी मिला लें तो और भी बेहतर होता है।
  1. एक चम्मच कच्चा दूध और एक चम्मच शहद मिलाकर चेहरे पर लेप करें तथा पांच मिनट बाद धो लें। इससे चेहरे की सुखी त्वचा में Glow आती है। सर्दियों के लिए यह उपाय Best है।
  2. रीठे का छिलका पानी में पीसकर चेहरे पर लगाने से दाग-धब्बे और झाइयाँ साफ़ होते हैं। 
  3. चेहरे की चमक और दमक आपके स्वास्थ्य पर भी निर्भर करती है। अगर आप अपने चेहरे को खिलता हुआ देखना चाहते हैं तो डेली Exercise करें। 
  4. पेट की बीमारियों को भी नजर अंदाज नहीं करना चाहिए क्योकि पेट में कब्ज या अन्य बीमारी होने पर उसका असर चेहरे पर होता है।
  5. बुरे खान-पान जिनसे आपको नुकसान हो उनसे से दूर रहें क्योंकि यह आपके चेहरे की स्किन को मृत कर देता है।
  6. खान-पान में भी कोताही नहीं करें। अलवीरा जूस का सेवन और अन्य फल सब्जियां भी अपने डेली भोजन और नाश्ते में शामिल करें।
  7. पर्याप्त नींद लें। इससे चेहरे पर Glow आती है।
  8. तनाव मुक्त रहें क्योंकि तनाव का सीधा असर आपके मुहं पर पड़ता है।
  9. धुप से बचें और बाहर जाएँ तो मुहं को रुमाल से ढँक लें।
  10. बाहर से आने पर अपने चेहरे को एक बार ताजे पानी से अच्छी तरह साफ़ कर लें।
ऐसे बहुत से घरेलु उपाय है जिनको आप अपनी दिनचर्या में शामिल करके अपने चेहरे को निखार सकते हैं। कभी भी किसी की बताई हुई बेकार की क्रीम का उपयोग नहीं करे। इससे आपकी तवचा को नुक्सान भी हो सकता है। हम उम्मीद करते हैं चेहरे को निखारने और गोरा बनाने के लिए यह Beauty Tips की यह जानकारी आपको पसंद आई होगी। अगर आप ऐसी नयी और रोचक जानकारी पढना चाहते हैं तो हमारी साईट के Newsletter को सब्सक्राइब कर लीजिये। अगर आपका कोई सवाल है तो आप हमसे कमेंट में पूछ सकते हैं। Good Luck!

Nov 5, 2018

पपीता खाने के फायदे और गुण । जानिए पपीता कितना लाभदायक है

पपीता एक ऐसा फल है जिसको लगभग सभी पसंद करते हैं। पपीते का सेवन लोग अलग अलग तरीके से करते है। पपीता का ज्यूस बनाकर, कच्चे पपीते की सब्जी बनाकर या फिर मीठे पपीते को अपने भोजन में सलाद के रूप शामिल करते हैं। हम आपको पपीते के फायदे और गुण के बारे में बताने जा रहे हैं। पपीता खाना आपके कितना सही है और इससे आपको क्या लाभ हैं इस पोस्ट को पूरा पढ़िए और जानिए।
papita khane ke fayde aur gun papita ka sevan kaise kare papita kaise khaye papita ka khane ke nuksan papita kin rogon me faydemand hai papita ke labh papita kyo hai labhdayak
पपीता खाने के फायदे
पपीता बहुत गुणकारी और शरीर को शक्ति प्रदान करने वाला फल है। पपीते का सेवन करने से मनुष्य के स्वास्थ्य में सुधार आता है और यह आपको हैल्थी और तंदरुस्त रखता है। पेट की बीमारियों में पपीता बहुत असरदार है। आइए जानते हैं पपीते के अनेक फायदे क्या हैं।

पपीता खाने के लाभ और पपीता क्यों खाएं 


आंखो की रोशनी को बढ़ाता है

पपीता विटामिन ए और विटामिन सी से भरा होता है। इस कारण पपीता एक बहुत ही असरदार फल है जो आंखों कि रोशनी को बरकरार रखने में मदद करता है। पपीता ज्यादा उम्र के लोगों की अनेक समस्याओं को भी दूर करता है।

रोग प्रतिरक्षा शक्ति को बढ़ाता है

बीमारियों से लडने के लिए मानव शरीर में रोग प्रतिरक्षा क्षमता स्ट्रॉन्ग होनी चाहिए। अगर स्वस्थ रहना है तो रोग प्रतिरक्षा शक्ति को कम नहीं होने देना चाहिए। पपीता शरीर में विटामिन सी की पूर्ति करता है जो मनुष्य के शरीर के लिए बहुत जरूरी है। विटामिन सी रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत रखता है।


पीलिया जैसी बीमारी में भी है फायदेमंद

पके हुए पपीते के साथ साथ कचवहा भी पपीता बेकार नहीं है। अगर पीलिया का इलाज करना है तो कच्चा पपीता इसके लिए बहुत ही उत्तम माना जाता है। कच्चे पपीते नियमित रूप से खाने से पीलिया में लाभ मिल जाता है।

कब्ज को भगाए दूर

कब्ज अगर हद से ज्यादा हो जाए तो यह बहुत बड़ी बीमारी बन जाती है। जिन लोगों का पाचन तंत्र सही नहीं होता है उनको अक्सर कब्ज की प्रॉब्लम होती है। पपीता खाने से पाचन क्रिया दुरुस्त होती है। पपीते में फाइबर और पोषक तत्व होते हैं जो शरीर की पाचन क्रिया को ठीक करते हैं। अगर सुबह खाली पेट पपीता खाया जाए तो अच्छी भूख लगती है तथा पेट में गैस बनने की समस्या भी समाप्त हो जाती है। आप अपने पेट कि समस्या से परेशान हैं तो अपने भोजन में पपीते को भी शामिल करना चाहिए।


वजन को कम करने में सहायक

पपीते में फाइबर्स होते हैं जो वजन को घटाने में मदद करते हैं। अगर आप है हाई वेट जैसी बीमारी से परेशान हैं तो आपको डेली प्रातः एक मीडियम साइज के पपीते का सेवन करना चाहिए। दिन भर मार्केट में काम करने जाते हैं तो जंक फूड भी ख़ा लेते हैं क्योंकि मन नहीं मानता है। इस वजह से पाचन सही से नहीं हो पाता और पेट में गैस तथा फेट बनता है। अगर आप सुबह पपीता खा लेते हैं तो आपको इस समस्या से छुटकारा मिल सकता है।


कोलेस्ट्रॉल को करता है कम

पपीता एक शीतलता प्रदान करने वाला फल है। पपीता में मौजूद फाइबर, विटामिन सी और एंटी ऑक्सीडेंट शरीर के कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करते हैं। कोलेस्ट्रोल बढ़ने पर पपीते का नियमित सेवन ठीक रहता है।


महिलाओं के लिए है बेस्ट

पपीता महिलाओं के लिए एक बढ़िया खुराक है। इससे शरीर की त्वचा में ग्लो आता है तथा चेहरे को निखरता है। शरीर में खून की मात्रा को बढ़ाता है जो कमजोर महिलाओं के लिए बेहतर है। मासिक धर्म साइकिल नियमित नहीं होने तथा अकड़न और दर्द में राहत के लिए पपीता खाना लाभदायक है।
नोट:- इन सभी चीजों पर अमल करने से पहले आप डॉक्टर से सलाह जरूर लें।
पपीता सेवन करने के फायदे के बारे में यह जानकारी आपको कैसी लगी हमें कमेंट में बताएं। अगर इसमें आपको कहीं पर भी पढ़ने में त्रुटि हो तो हमे बताएं। ऐसी और भी रोचक, बेहतरीन जानकारी पढ़ना चाहते हैं तो हमारी वेबसाइट के न्यूजलेटर को सब्सक्राइब कर लें।

Nov 4, 2018

घुमने का मन बना लिया है तो जाएँ भारत की इन 5 खूबसूरत जगहों पर

अगर आप अपने छुट्टियों को आनंदमयी बनाना चाहते हैं या पाने पार्टनर के साथ किसी खास जगह पर जाकर वक्त बिताना चाहते हैं तो हम आपको घुमने के लिए भारत की ऐसी पांच जगहों के बारे में बताएँगे जो आपके लिए बहुत ही सस्ती और अच्छी साबित हो सकती हैं। भारत देश में घुमने के लिए बहुत ख़ास जगह हैं जिनमे से बहुत से स्थानों पर शायद आप गए भी हों लेकिन हो सकता हैं जिनके बारे में हम बताने जा रहे हैं उनको देखने की और वहां पर जाने की आपकी इच्छा करने लगे।

भारत की पांच सबसे बढ़िया और खूबसूरत जगह जहाँ पर आपको घूमना चाहिए

दोस्त हों या पार्टनर या फिर फैमिली हर कोई अपनों के साथ घूमना पसंद करता है। घुमने का मन तो बना लेते हैं लेकिन कहाँ पर जाएँ यह प्लान करना बहुत मुश्किल हो जाता है। अगर आप निश्चय नहीं कर पा रहे हैं की कौनसी जगह सबसे बेस्ट है जहाँ पर बोर भी नहीं हों तो हमने आपके लिए पांच ऐसी जगहों को तलाश किया है जहाँ पर आप आराम से अपनी दिवाली या गर्मियों की छुट्टियों का आनंद ले सकते हैं।

गोवा

Goa tour par jaye goa ka tour goa ghumne kaise jaye goa kaha jaye
गोवा
गोवा के बारे में आपने अच्छी तरह सुना होगा। गोवा अपने खूबसूरत समुन्द्रों के तटों के कारण विश्व में प्रसिद्ध है। यह शहर आपके घुमने के लिए सबसे सस्ता और बढ़िया है। लम्बे-लम्बे नारियल के पेड़, चमकीली रेत, उठती समुन्द्र की लहरें हर किसी के दिल को छू जाती हैं। यहाँ का नजारा देखते ही बनता है देखने वाला इसमें खो सा जाता है।

युमथंग की घाटी सिक्किम

Yumthang ki ghati sikkim me ghumane jaye yumthang ki ghati me kya dekhne ko milega yumthang ki ghati tour par jaye
    Photo by S S on Unsplash                                                                                                                    युमथंग घाटी                                               
युमथंग की घाटी को फूलों की घाटी भी कहते हैं। यहाँ पर बहुत लोग भ्रमण करने आते हैं। इस घाटी के लिए सिक्किम पुरे भारत में प्रसिद्ध है। वसंत ऋतू में ज्यादा करके लोग यहाँ पर आते हैं। इसकी एक खासियत यह भी है की यहाँ पर आपको हर महीने अलग-अलग तरह के फूल देखने को मिल जाते हैं। अगर आप यहाँ पर घूमना चाहते हैं तो यह बहुत लुभावनी जगह है।

जम्मू कश्मीर द्रास

jammu kashmir dras tour par ghumne jaye jammu kashmir me kahan par ghumne jaye
जम्मू कश्मीर द्रास
जम्मू कश्मीर एशिया की दूसरी सबसे ठंडी जगहों में आती है। यहाँ का नजारा बहुत खूबसूरत है इसलिए इसको भारत की जन्नत भी कहते हैं। यहाँ पर पर्वतों पर जमने वाली बर्फ की आकृतियाँ हर किसी को अपनी तरफ आकर्षित करती हैं। इसे लद्दाख का प्रवेश द्वार भी माना जाता है।

आगरा का ताजमहल

tajmahal tour jaye tajmahal ki ser kaise kare tajmahal kaise ghumne jaye
ताजमहल
भारत में आगरा ताजमहल के लिए जाना जाता है। ताजमहल को देखते ही पुराने दिनों की बातें याद आ जाती हैं जिनको हमने पूर्वजों से सुना था। ताजमहल की कला कृतियाँ देखने से उन लोगों का स्मरण होता है जिन्होंने ताजमहल को इतना सुन्दर रूप दिया था। ताजमहल को प्यार-मोहब्बत का प्रतीक माना जाता है। ताजमहल मुग़ल बादशाह शाहजहाँ और बेगम मुमताज की मोहब्बत की निशानी है। यहाँ पर आप अपने परिवार के साथ बहुत आसानी से घूम सकते हैं।

पिंकसिटी जयपुर

pinkcity jaipur ka ka fort amber kila me ghumne jaye amer kila kaise dekhe amer kila ko dekhne kaha par jaye
आमेर किला जयपुर
गुलाबी पत्थरों से बने हुए इस शहर को पिंकसिटी भी कहते हैं। यहाँ पर पर अन्य देशों से बहुत पर्यटक आते हैं जो जयपुर की जगहों को देखकर ख़ुश होते हैं। जयपुर में कई महल हैं जो राजपूत राजाओं की विरासतों की याद दिलाते हैं। आमेर का किला, जलमहल, हवा महल यहाँ के सबसे बढ़िया भ्रमण स्थल हैं। जयपुर में घुमने के लिए हलके ठन्डे दिनों को चुने क्योंकि गर्मियों में यहाँ का तापमान ज्यादा होता है जिससे घुमने का मजा किरकिरा हो जाता है।
हम उम्मीद करते हैं की आपको यह जानकारी अच्छी लगी होगी। अगर यह जानकारी पसंद आई हो तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करें तथा ऐसी और भी रोचक जानकारी पढने के लिए हमारी साईट को सब्सक्राइब कर लें।धन्यवाद!

तीन तरह के लोगों को सेब का सेवन नहीं करना चाहिए जानिए क्यों

सेब के बारे में सभी लोग जानते हैं की यह कितना गुणकारी फल है। लेकिन इस बात को भी ध्यान में रखना चाहिए की Apple सभी के लिए सही नहीं होता है। सेब खाने से पहले अपनी शारीरिक बीमारियों का मूल्यांकन करना भी जरुरी है। सेब खाने से हमे बहुत सी बीमारियों से राहत मिलती है परन्तु कई बार सेब का खाना आपके लिए ख़तरा भी बन सकता है इसलिए सोच समझकर सेब का सेवन करना चाहिए। इस लेख में हम आपको ऐसे तीन लोगों के बारे में बताएँगे जिनको सेब नहीं खाना चाहिए तथा क्यों नहीं कहना चाहिए।
kin logon ko seb nahi khana chahiye apple kahane ke fayde apple khane se hone wale nuksaan apple ka sevan kisko nahi karna chahiye seb kaise khaye seb kahane ka sahi tarika kaunsi beemari me seb nahi khana chahiye apple kaise khaye apple ke laabh apple benefits apple effects
कौनसे तीन लोगों को सेब नहीं खाना चाहिए 
सेब एक ऐसा फल है जिसमे भरपूर मात्रा में एंटी-ओक्सिडेंट, फाइबर, और फ्लैनोनोड्स जैसे अनेक प्रकार के तत्व मिलते हैं जो हमारे शरीर में होने वाली अनेक प्रकार की गंभीर समस्याओं को समाप्त कर देते हैं। लेकिन फिर भी आपको ध्यान रखना चाहिए की कई बीमारियों में सेब का सेवन करना आपके लिए हानिकारक हो सकता है। ऐसी कई बीमारियाँ होती हैं जिनमे सेब खाने से हमारे स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। इसलिए जो लोग इन समस्याओं से ग्रसित हैं वह अगर सेब नहीं खाएं तो बेहतर है। आइये जानते हैं किन-किन लोगों को सेब खाने से problem हो सकती है।

किन लोगों को सेब नहीं खाना चाहिए

ज्यादा मोटे लोग

ऐसे लोग जो मोटापे की समस्या से परेशान हैं उनको सेब का सेवन नहीं करना चाहिए। बहुत से लोग वजन घटाने के लिए सेब का सेवन करते हैं लेकिन ध्यान रहे मोटापा की बीमारी से जूझ रहे लोगों को सेब खाना बहुत खतरनाक हो सकता है। क्योंकि सेब में बहुत ज्यादा शुगर पाया जाता है जो मोटापा कम करने के बजाय बहुत तेजी से मोटापा को बढ़ा देता है। इसलिए जिन लोगों को यह समस्या है वह सेब से परहेज करें तो बेहतर है।

शुगर से ग्रसित लोग

जिन लोगों को शुगर की बीमारी होती है उनको सेब खाने से बचना चाहिए क्योंकि सेब में मीठा बहुत ज्यादा मात्रा में पाया जाता है। शुगर वाले लोगों को खाली पेट सेब का सेवन करने से तो बिलकुल दूर रहना चाहिए क्योंकि उनके लिए यह जहर जैसा है। सेब खाने से शारीर में शुगर की मात्रा काफी हद तक बढ़ जाती है। इसलिए शुगर वाले लोगों को बहुत बड़ी समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

दिल की बीमारी वाले लोग

सेब में फ्रक्टोस काफी मात्रा में पाया जाता है जिससे हार्टअटैक जैसी बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। जिन लोगों को Heart की बीमारी है उन लोगों को सेब खाने से पहले एक बार चिकित्सक से सलाह लेनी चाहिए। बहुत से लोग दिल की बीमारियों में आराम पाने के लिए सेब खाते हैं। लेकिन ध्यान रहे सेब का सेवन कभी भी दिल की बीमारियों को कम करने के लिए नहीं करें क्योंकि हार्ट अटैक जैसी गंभीर समस्याओं का एक कारन सेब भी बन सकता है। इसलिए दिल के मरीजों को इससे बचना चाहिए।
seb kaise khaye seb khane ka tarika seb khane khali pet aur dil ki beemari me khaye ya nahi seb ko sevan karne ka sahi niyam seb kin logo ko nahi khana chahiye apple ke fayde kaise hote hain apple ke nuksaan kya hai
दिल की बीमारी में सेब खाए या नहीं 
इन सभी समस्याओं के समाधान के लिए आप डॉक्टर से परामर्श जरुर लें। क्योंकि एक डॉक्टर रोगी की जाँच करके उसके शरीर में होने वाली बीमारी को अच्छी तरह भांप सकता है। बहुत से लोगों को चिकित्सक सेब खाने की सलाह देते हैं लेकिन वह उनकी बीमारी की स्थिति को देखते हुए ही यह सब करने को कहते हैं। अतः आप इन बातों पर अमल करने से पहले अपने नजदीकी चिकित्सक से परामर्श जरुर करें।
ऐसी और भी रोचक जानकारी पढने के लिए वेबसाइट के Newsletter को सब्सक्राइब करें। इस लेख में कहीं पर भी पढने में या अर्थ में त्रुटी हो तो हमे कमेंट में बताएं।

Oct 28, 2018

राजा रानी की कहानी । King Queen Story in Hindi

यह एक राजा और रानी की कहानी है जिसमें आपको एक नारी की समझदारी और शक्ति का मूल्यांकन मिलेगा। यह कहानी एक राजा और रानी के प्यार और प्रेम के बारे में है जिसमें राजा रानी के प्यार और प्रेम नहीं होने के कारण होने वाले प्रभाव के बारे में बताया गया है। यह कहानी शारूफ खान द्वारा लिखी गई है। इस कहानी को केवल Inida Weblink ब्लॉग पर पब्लिश किया गया है। कहानी को पूरा पढ़िए और अगर आपको ऐसी कहानी और पढ़नी हैं तो हमें सूचित करें।

raja rani kahani in hindi, king queen story in hindi, raja aur raani ki prem kahani, raja aur rani ka pyar hindi story, raaj aur rani ka yudh kahani, ek raaja aur do raniyon ki kahani

एक समय की बात है कि एक बार एक राजा अपनी रानी के साथ महल के सामने वाले बगीचे में घूम रहा था। राजा और रानी में आपस में बहुत प्रेम था। रानी का नाम कामिनी और राजा का नाम चंदरसिंह था। चलते चलते राजा और रानी बगीचे के बीचो बीच पहुंच गए। राजा ने रानी को अपनी बाहों में लेना चाहा तभी अचानक वहां पर राजा का सिपाही आ गया। राजा बहुत क्रोधित हुआ और सिपाही से कड़क कर बोला कि तुम्हारी हिम्मत कैसे हुई यहां पर आने की। सिपाही घबरा गया और उसने उत्तर दिया की महाराज हमारे महल पर कुछ दुश्मन चढ़ाई कर रहे हैं तथा आक्रमण होने की संभावना है।
राजा ने तुरंत अपने सेनापति व सिपाहियों को इकट्ठा किया और युद्ध के लिए तैयार होने को कहा। सभी सिपाहियों ने अपने सस्त्र और तलवार उठा लिए और जंग के लिए तैयार हो गए। जब राजा और सिपाही मैदान में पहुंचे तो सामने उसने देखा कि उसकी दूसरी रानी वैशाली ने बगावत की है और उसने कुछ सैनिकों को अपनी तरफ कर लिया है तथा वह युद्ध करना चाहती है। इस दृश्य को देखकर राजा आग बबूला हो गया और उसने उस दुश्मन रानी को सबक सिखाने की मन में ठान ली।

वैशाली रानी राजा से खुश नहीं थी क्योंकि राजा हमेशा रानी कामिनी को ही ज्यादा महत्व देता था। राजा ज्यादातर समय रानी कामिनी को ही देता था। रानी वैशाली के दुश्मन होने और बगावत करने की असली वजह थीं। राजा बहुत गर्म स्वभाव का था इस कारण उसने एक बार भी रानी वैशाली से यह तक नहीं पूछा की तुम्हारे युद्ध करने का कारण क्या है। राजा ने भी अपने सेनापति को आदेश दे दिया की इस पर आक्रमण किया जाए। युद्ध शुरू हो गया तथा भयंकर युद्ध होने लगा। वैशाली रानी भी एक कुशल योद्धा थी वह हर कब मानने वाली थी, उसने भी अपने आप को पूरी तरह से तलवार को समर्पित कर दिया था। 
रानी कामनी युद्ध के समय महल में थी उसको भी किसी सैनिक के माध्यम से सूचना मिली कि रानी वैशाली ने राजा के खिलाफ जंग छेड़ दी है। रानी कामिनी बहुत दुखी हुई और वह नहीं चाहती थी कि राजा और रानी के आपसी बिगाड़ के कारण प्रजा को हानि हो। वह इस बात को सोच कर बहुत परेशान होने लगी कि जंग में मारे गए सैनिकों के कितने बच्चे अनाथ हो जाएंगे। इसलिए रानी कामिनी ने एक योजना बनाई और किसी के हाथ राजा को संदेश भेजा कि मैं महल छोड़ कर जा रही हूं।

उधर युद्ध जारी था अभी किसी की भी हार और जीत का फैसला नहीं हुआ था। रानी वैशाली ने बहुत बहादुरी से युद्ध लड़ा और राजा के करीब पहुंच गई। राजा भी रानी से युद्ध करने लगा तथा रानी के तेज वार से राजा की तलवार टूट गई। रानी ने राजा को बंदी बना लिया तभी रानी का संदेश लेकर एक सिपाही राजा के पास आ गया। सिपाही ने राजा को संदेश सुनाया की रानी कामनी महल छोड़ कर जा रही हैं। राजा दोनों रानियों के इस व्यवहार से बहुत दुखी हो गया। रानी वैशाली ने जब यह संदेश सुना तो उसने राजा को छोड़ दिया क्योंकि वह जैसा चाहती थी वैसा रानी कामिनी ने कर दिया। वह चाहती थी कि किसी भी तरह रानी कामिनी से राजा की दूरी बने।
राजा रानी कामिनी से बहुत प्रेम करता था इसलिए उसके महल छोड़ने की खबर से तुरंत महल पहुंचा तो देखा रानी महल छोड़ कर नहीं गई थी। राजा ने पूछा यह क्या मजाक है तुमने मुझे यह संदेश भेजा था। रानी ने कहा हां मैंने है यह संदेश भेजा था। राजा ने इसका कारण पूछा तो रानी कामनी ने कहा कि एक सभा बुलाई जाए और उसमे रानी वैशाली को भी बुलाया जाए। राजा ने एक सभा बुलाई और रानी वैशाली को भी उसमें आने के लिए आमंत्रित किया। जब सभा में सभी आ गए तो राजा ने रानी कामिनी को आदेश दिया कि अपनी बात पूरी की जाए। रानी कामिनी ने अपनी बात की और कहा कि रानी वैशाली का महाराज से युद्ध करना बहुत दुखद है।

लेकिन यह इस बात की दलील है किरानी वैशाली महाराज से बहुत प्रेम करती हैं। क्योंकि अक्सर जब व्यक्ति किसी को चाहने लगता है तो उसको पाने के लिए बहुत बड़े कदम उठा लेता है। रानी कामिनी ने कहा कि कि महाराज आपने रानी वैशाली को उसके पत्नी होने का हक नहीं दिया इसलिए वह आपसे युद्ध करने पर उतारू हुई तो यह आपके और रानी वैशाली के बीच प्यार प्रेम नहीं होने का परिणाम है। अगर प्यार प्रेम के कारण लोगों की जान जाती है और प्रजा को नुकसान पहुंचता है तो यह बहुत निंदनीय होगा। राजा को रानी कामिनी की बात समझ आ गई और उसने कहा कि अब से में रानी वैशाली और रानी कामिनी में कोई फर्क नहीं करूंगा। जितना मैं रानी कामिनी को महत्व दूंगा उतना ही रानी वैशाली को महत्व दूंगा।
उम्मीद करते हैं कि आपको यह कहानी पसंद आई होगी यह राजा रानी की कहानी है इसमें एक राजा और रानी के प्यार और प्रेम को दर्शाया गया है। दूसरी तरफ इस कहानी में रानी कामिनी की समझदारी और बहुत ऊंची सोच को प्रदर्शित किया गया है। अगर कहानी पसंद आई हो तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और कमेंट करके भी जरूर बताएं।